एक बार फिर पाकिस्तान की ओर से हुई फायरिंग, 3 घायल एक जवान शहीद

खबरें अभी तक। सीमा पर पाकिस्तान की नापाक हरकत फिर सामने आई है। जम्‍मू कश्‍मीर के सांबा सेक्टर की चमलियाल पोस्‍ट पर सीमा पार से फायरिंग की गई, जिसमें बीएसएफ के तीन अफसर और एक जवान शहीद हो गए और पांच जवान जख्‍मी हुए हैं। एलओसी पर पिछले कुछ महीनों में संघर्ष विराम उल्लंघन की घटनाओं में लगातार तेजी आई है।

सूत्रों के मुताबिक जम्‍मू कश्‍मीर के सांबा सेक्टर की चमलियाल पोस्‍ट पर पाकिस्‍तान की ओर से फायरिंग की गई। हमले में बीएसएफ के असिस्‍टेंट कमांडेंट जतिंदर सिंह, असिस्‍टेंट सब इंस्‍पेक्‍टर राम निवास और जवान हंस राज शहीद हो गए साथ ही बता दें कि एक सब इंस्‍पेक्टर फायरिंग की वजह से गंभीर रूप से जख्‍मी हो गए, जिन्‍हें अस्‍पताल में भर्ती कराया गया। इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई। ये हमला आज की सुबह किया गया।

जिसके तहत दोनों मुल्कों ने सीमा पर तनाव कम करने के लिए बातचीत करने का फैसला किया था। बता दें कि 29 मई को भारत और पाकिस्तान के बीच डीजीएमओ स्तर की चर्चा हुई थी, जिसके तहत 2003 के संघर्ष विराम समझौते को पूरी तरह लागू करने पर सहमति बन गई थी। चर्चा में दोनों डीजीएमओ सीमा पर संयम रखने और स्थानीय कमांडरों की फ्लैग मीटिंग के मौजूदा तरकीब के जरिए हल करने पर भी सहमति भी हुई थी।

लेकिन पाकिस्तान की कार्रवाई से ये सभी कोशिशे  नाकाम होती नजर आ रही है। इसके बावजूद आज फिर पाकिस्तान ने नापाक हरकत करते हुए सीमा पर सीजफायर का उल्लंघन किया।

भारत के डीजीएमओ लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चौहान और पाकिस्तान के मेजर जनरल साहिर शमशाद मिर्जा के बीच बातचीत के बाद दोनों सेनाओं ने समान बयान जारी कर कहा कि दोनों देश 15 साल पुराने संघर्ष विराम समझौते को पूरी तरह से लागू करने पर सहमत हुए थे और यह सुनिश्चित किया जाएगा कि दोनों ओर से संघर्ष विराम का उल्लंघन ना किया जाए। इस हॉटलाइन संपर्क की पहल पाकिस्तानी डीजीएमओ की ओर से की गई थी।

Add your comment

Your email address will not be published.