बच्चा चोरी करने वाली महिला को पुलिस ने किया काबू

ख़बरें अभी तक। रेवाड़ी: बेटे की चाह ने राजस्थान के रहने वाले एक शख्स व उसकी महिला साथी को रेवाड़ी रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर एक पर सो रहे एक खानाबदोश परिवार की दो वर्षीय बच्ची को लड़का समझकर उसे चोरी करने के आरोप सलाखों के पीछे भेज दिया. बहरहाल पुलिस ने बच्ची को बरामद कर परिजनों के हवाले कर दिया है.

दरअसल राजस्थान के रहने वाले रोहतास नाम के शख्स की शादी 7 वर्ष पहले हुई थी. लेकिन कोई औलाद नहीं हुई. अरोपी ने रेवाड़ी के मॉडल टाऊन में रहने वाली अपनी पहचान की गीता नाम की महिला से सम्पर्क किया और उसे रेलवे स्टेशन ले आया. प्लेटफार्म नंबर एक पर एक महिला अपने तीन बच्चों के साथ सो रही थी.

आरोपी रोहतास ने गीता को बीस हजार देने की बात कहकर सो रहे बच्चे को चुराने की बात कही तो गीता वहां सो रहे एक बच्चे को चुराकर घर ले गई लेकिन घर जाकर देखा तो बच्चा लड़का नहीं लड़की थी जिसे रात को वह स्टेशन छोड़ने आ रही थी. तभी सुबह से बच्ची को तलाश कर रही रेलवे पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया और बाद में आरोपी को भी पुलिस ने धरदबोचा.

अब दोनों सलाखों के पीछे है, और बच्ची को मां को सौंप दिया है, लेकिन देशभर में मॉडल स्टेशनों में शुमार रेवाड़ी जंक्शन पर लगे CCTV कैमरे ख़राब होने से वारदातें बढ़ती जा रही है. फिर भी रेलवे विभाग इस ओर कोई ध्यान नहीं दे रहा. यह तो सरासर लापरवाही ही है. पूर्व में भी रेवाड़ी स्टेशन से 5 बच्चे अगवा कर लिए गए है जिनमें से पारुल और लक्ष्मी को ही पुलिस तलाशने में सफ़ल रही है. अभी भी बाकी तीन बच्चों का कोई भी सुराग नहीं लगा है.

Add your comment

Your email address will not be published.