मुज़फ्फरनगर: प्रेमी प्रेमिका चढ़े पुलिस के हत्थे

ख़बरें अभी तक। मुज़फ्फरनगर दो दिन की बच्ची को डॉक्टर अथर के घर की सीढ़ियों पर छोड़कर फरार हो गए मां व पिता को पुलिस ने कार के साथ धर दबोचा. उक्त मामला मीडिया की सुर्खियां बन जाने से पुलिस की एक टीम लगातार कार संख्या एचआर 06M 5005 को ट्रेस कर उनके पीछे लगी थी. महिला कोशर ने एक वर्ष पूर्व सरवर को गर्भ ठहरने के बाद निकाह करने पर जोर दिया लेकिन उसने मना कर दिया. तब महिला ने युवक के खिलाफ थाना चांदनी बाग में मुकदमा दर्ज करा दिया था. बाद में दोनों ने निकाह कर लिया था.

दरसअल कौशर पानीपत हरियाणा की एक हैंडलूम फैक्ट्री में काम करती थी जबकि युवक सरवर पास की ही दुकान पर नौकरी करता था. दोनों की आंखे चार हुई और वह प्यार में इतने आगे बढ़ गए कि आपसी सहमति से दोनों के शारीरिक सम्बंध हो गए जिसके चलते युवती गर्भवती हो गई उसने यह बात जब सरवर को बताई तो उसने युवती से पल्ला झाड़ने का प्रयास किया तो युवती ने उसके खिलाफ बलात्कार का मुकदमा पानीपत के चांदनी बाग थाने में दर्ज करा दिया. बाद में मजबूर होकर सरवर ने युवती से निकाह कर लिया. 04 जून को हुई डिलवरी में युवती ने लड़की को जन्म दिया जिसे लोकलाज के डर से उन्होंने मुज़फ्फरनगर ने खालापार गुल्लर वाली गली में रहने वाले डॉक्टर अथर के यहां मकान की सीढ़ियों पर फेंक कर फरार हो गए थे. लेकिन तीसरी नजर में कैद होने पर पुलिस ने गाड़ी के नम्बर को ट्रेस करके मामले का पटाक्षेप कर दिया. पुलिस द्वारा दर्ज कराए गए मुकदमे में दोनों को जैल भेज दिया.

Add your comment

Your email address will not be published.