अब YouTube फर्जी खबरों पर लगाएगा रोक, जानिए कैसे

ख़बरें अभी तक। गूगल की वीडियो प्लेटफॉर्म कंपनी YouTube फर्जी सूचनाओं पर अब शिकंजा कसने जा रही है. यूट्यूब समाचार संगठनों की मदद के लिए खबर की सच्चाई परखने के लिए कई अहम कदम उठा रही है. इसके अलावा कंपनी इन चुनौतियों से मुकाबला करने के लिए 2.5 करोड़ डॉलर का निवेश भी करेगी. यूट्यूब कंपनी ने कहा कि वह समाचार स्रोतों को और अधिक ‘विश्वसनीय’ बनाएगी, खासतौर से ब्रेकिंग न्यूज के मामले में एहतियात बरतेगी.

इसी क्रम में, यूट्यूब वीडियो सर्च रिजल्ट में वीडियो और उससे जुड़ी खबर का एक छोटा-सा विवरण यूजर्स को दिखाना शुरू करेगा. इसी के साथ चेतावनी भी देगा कि ये खबरें बदल सकती हैं. इसका उद्देश्य फर्जी वीडियो पर रोक लगाना है जो कि गोलीबारी, प्राकृतिक आपदा और अन्य प्रमुख घटनाओं के मामले में तेजी से फैल सकती हैं. इसके अलावा कंपनी विकिपीडिया और इनसाइक्लोपीडिया ब्रिटैनिका जैसे सामान्य विश्वसनीय सूत्रों के साथ विवादित वीडियो से निपटने के तरीकों का भी परीक्षण कर रही है.

Add your comment

Your email address will not be published.