टीम इंडिया को जीत के लिए 406 रनो का लक्ष्य, खिलाड़ियों का संघर्ष जारी

खबरें अभी तक। भारत और इंग्लैंड के बीच हो रहे पांचवें टेस्ट मैच के चौथे दिन का खेल खत्म होने तक इंग्लैंड की टीम ने 3 विकेट पर 58 रन बना लिए हैं। जिसके बाद अब भारत को जीतने के लिए 406 रनों की आवश्यकता है.  दूसरी पारी में लगे शुरुआती झटके के बाद भारतीय टीम का संघर्ष जारी है और इस वक्त क्रीज पर भारतीय बल्लेबाज लोकेश राहुल (46) और अजिंक्य रहाणे (10) मौजूद हैं। आपको बता दें कि इंग्लैंड ने दूसरी पारी में कप्तान रूट व कुक के शतक के दम पर 8 विकेट के नुकसान पर 423 रन बनाए और भारत के खिलाफ कुल 463 रन की बड़ी बढ़त हासिल की।

Image result for Ind vs Eng: टीम इंडिया का संघर्ष जारी, अब जीत के लिए 406 रन की जरूरत

आपको बता दें कि इंग्लैंड के खिलाफ दूसरी पारी में भी भारतीय टीम की शुरुआत कुछ खास नहीं रही। टीम के ओपनर बल्लेबाज शिखर धवन दूसरी पारी में भी सिर्फ एक रन बनाकर जेम्स एंडरसन का शिकार बने और एलबीडब्ल्यू आउट हो गए। एंडरसन ने चेतेश्वर पुजारा को अपना दूसरा शिकार बनाया और उन्हें बिना खाता खोले ही शून्य पर एलबीडब्ल्यू आउट कर पवेलियन का रास्ता दिखा दिया।  कप्तान विराट को भी स्टुअर्ट ब्रॉड ने शून्य पर विकेट के पीछे बेयरस्टो के हाथों कैच आउट करवा दिया।

Image result for Ind vs Eng: टीम इंडिया का संघर्ष जारी, अब जीत के लिए 406 रन की जरूरत

मैच की दूसरी पारी में इंग्लैंड के तेज गेंदबाजों ने भारतीय टीम के लिए मुश्किल खड़ी कर दी थी. जेम्स एंडरसन ने दो जबकि स्टुअर्ट ब्रॉड ने एक विकेट लिए थे। भारतीय गेंदबाजों की बात करें तो इंग्लैंड के खिलाफ दूसरी पारी में हनुमा विहारी व रवींद्र जडेजा ने तीन-तीन व मो. शमी ने दो विकेट लिए जिसमें  पहली सफलता तेज गेंदबाज शमी ने दिलाई। उन्होंने इंग्लिश ओपनर बल्लेबाज जेनिंग्स को 10 रन के निजी स्कोर पर क्लीन बोल्ड कर दिया। टीम इंडिया को दूसरी सफलता जडेजा ने दिलाई। उन्होंने मोइन अली को अपना शिकार बनाया और 20 रन के स्कोर पर क्लीन बोल्ड कर दिया। एलिएस्टर कुक ने अपने आखिरी टेस्ट मैच में शानदार पारी खेली और उन्हें हनुमा विहारी ने 147 रन पर आउट किया और इसी ओवर में कप्तान रूट को 125 रन पर आउट किया।

शमी ने बेयरस्टो को 18 रन के स्कोर पर क्लीन बोल्ड कर दिया। भारत को छठा विकेट जडेजा ने दिलाया। उन्होंने जोस बटलर को बिना खाता खोले ही पवेलियन वापस भेज दिया। जडेजा ने बेन स्टोक्स को लोकेश राहुल के हाथों कैच करवा दिया। उन्होंने 36 गेंदों पर 37 रन बनाए। सैम कुर्रन को हनुमा विहारी 21 रन पर पंत के हाथों कैच करवा दिया। आदिल रशीद 20 रन बनाकर नाबाद रहे।

मैच की पहली पारी में भारतीय ओपनर बल्लेबाज शिखर धवन सिर्फ तीन रन बनाकर स्टुअर्ट ब्रॉड का शिकार बने। सिर्फ तीन रन के स्कोर पर ब्रॉड ने उन्हें एलबीडब्ल्यू आउट किया। लोकेश राहुल पिछली गलतियों से सीखकर काफी संभलकर बल्लेबाजी कर रहे थे लेकिन सैम कुर्रन की गेंद पर वो गलत लाइन पर खेल गए और क्लीन बोल्ड हो गए। राहुल ने 53 गेंदों का सामना करते हुए 37 रन बनाए। अच्छी बल्लेबाजी कर रहे पुजारा का ध्यान भटका और वो एंडरसन की बाहर जाती गेंद को छेड़ बैठे। नतीजा विकेट के पीछे खड़े बेयरस्टो ने पुजारा का कैच लपक लिया। पुजारा ने 101 गेंदों का सामना करते हुए 37 रन बनाए। इसके बाद एंडरसन ने अजिंक्य रहाणे को बिना खाता खोले पवेलियन भेज दिया।

बता दें कि भारत को सबसे बड़ा झटका बेन स्टोक्स ने दिया, स्टोक्स ने विराट कोहली को स्लिप में जो रूट के हाथों कैच आउट करवाया। इसके बाद स्टोक्स ने रिषभ पंत को भी कुक के हाथों कैच आउट करवा भारत को छठा झटका दिया। हनुमा विहारी ने अपने डेब्यू टेस्ट मैच में ही अपने धैर्य का शानदार परिचय दिया। उन्होंने 124 गेंदों का सामना करते हुए 56 रन की पारी खेली। वो मोइन अली की गेंद पर बेयरस्टो के हाथों विकेट के पीछे लपके गए। इशांत शर्मा को मोइन अली ने 4 रन पर बेयरस्टो के हाथों कैच करवा दिया। मो. शमी को आदिल रशीद ने एक रन पर स्टुअर्ट ब्रॉड के हाथों कैच आउट करवाया। रवींद्र जडेजा ने बेहतरीन बल्लेबाजी की और 86 रन बनाकर नाबाद रहे। भारत का अंतिम विकेट बुमराह के तौर पर गिरा। वो बिना खाता खोले रन आउट हो गए।

Add your comment

Your email address will not be published.