महिला सरपंच व ग्राम सचिव ने मिलकर किया विकास कार्यों में गोलमाल

ख़बरें अभी तक। चरखी दादरी: जिले के झोझू कलां खंड के गांव कलियाणा की महिला सरपंच व ग्राम सचिव ने मिलकर गांव के विकास कार्यों में लाखों रुपए का गोलमाल करने का मामला सामने आया है। बीडीपीओ द्वारा की गई जांच के बाद डीसी ने महिला सरपंच को सस्पेंड कर दिया गया। सदर पुलिस थाना ने सरपंच व ग्राम सचिव के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत केस रजिस्टर किया है।

गांव कलियाणा की सरपंच नीलम देवी व ग्राम सचिव शंकर द्वारा गांव में विकास कार्यों में गोलमाल की शिकायत प्रशासन को दी गई थी। पूरे मामले की जांच के लिए डीसी द्वारा बीडीपीओ झोझू कलां को जांच के आदेश जारी किए थे। बीडीपीओ द्वारा की गई जांच में महिला सरपंच नीलम देवी व ग्राम सचिव शंकर को दोषी पाया गया। बीडीपीओ द्वारा की गई जांच में पाया कि ग्राम पचांयत द्वारा गांव में गली, नाली, रास्ता निर्माण व निजी शौचालय के कार्य करवाए गए। जिसमें दोनों ने मिलकर विकास कार्यों का लाखों रुपए का गोलमाल का आरोप था।

बीडीपीओ द्वारा अपनी जांच रिपोर्ट डीसी अजय सिंह तोमर को दी गई। जिसके आधार पर उपायुक्त ने गत 7 सितंबर को सरपंच नीलम देवी को सस्पेंड कर दिया गया था। ग्रामीणों का कहना है कि गांव में विकास कार्य हुए ही नहीं। विकास कार्यों के नाम पर पंचायत ने लाखों रुपए की धोखाधड़ी की है। पूरे मामले की जांच होनी चाहिए। वहीं बीडीपीओ देखमुख ने बताया कि शिकायत के आधार पर जांच की गई तो पूरा मामले सामने आया। इस संबंध में डीसी को अवगत करवाया गया। डीसी के आदेशानुसार ही पुलिस थाना में शिकायत दी गई है। उधर सदर पुलिस थाना प्रभारी जगराम ने बताया कि बीडीपीओ झोझू कलां की शिकायत पर पुलिस ने सरपंच व ग्राम सचिव के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज किया है।

Add your comment

Your email address will not be published.