गंगा की रक्षा के लिए एक और संत ने दिया बलिदान

ख़बरें अभी तक। वैज्ञानिक से संत बने स्वामी ज्ञान स्वरूप सानन्द की गुरुवार को ऋषिकेश के एम्स हॉस्पिटल में दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया हैं। स्वामी सान्नद पिछले 112 दिनों से गंगा की रक्षा और अपनी मांगों को लेकर हरिद्वार के मातृ सदन आश्रम में अनशन पर थे।

बता दें कि गंगा की निर्मलता और अविरलता बनाए रखने के लिए अपनी मांगों को लेकर कानपुर आईआईटी के पूर्व प्रोफेसर जीडी अग्रवाल उर्फ स्वामी ज्ञान स्वरूप सानन्द हरिद्वार के मातृ सदन आश्रम में 22 जून से अनशन पर बैठे हुए थे।

उनके इस अनशन के बाद कुछ केंद्रीय मंत्रीयों ने भी वहां आकर उनसे अनशन समाप्त करने का अनुरोध किया लेकिन सानन्द अनशन खत्म करने को तैयार नहीं हुए। उनकी बिगड़ती हालात को देखते हुए बुधवार को ही उन्हें प्रशासन ने जबरन अनशन से उठाकर ऋषिकेश एम्स हॉस्पिटल में भर्ती कराया था।

Add your comment

Your email address will not be published.