हरिद्वार: राम जन्मभूमि पर राम मंदिर बनाने की मांग हुई तेज़

ख़बरें अभी तक। राम जन्मभूमि पर राम मंदिर बनाने की मांग को लेकर देशभर के संत अब मुखर हो चले हैं। राजधानी दिल्ली में संतो के सम्मेलन धर्मादेश के बाद हरिद्वार में वरिष्ठ संत और भारत माता मंदिर के संस्थापक स्वामी सत्यमित्रानंद गिरी ने आगामी 06 दिसंबर से हरकी पौड़ी पर अनशन करने की घोषणा क्या की, बड़ी संख्या में साधु-संत स्वामी सत्यमित्रानंद के समर्थन और विरोध में भी आ गए हैं। अखिल भारतीय साधु समाज के अध्यक्ष और जयराम पीठाधीश्वर ब्रह्मस्वरूप ब्रह्मचारी ने कहा है कि स्वामी सत्यमित्रानंद का यह फैसला राजनीति से प्रेरित है और अपने बुजुर्ग अवस्था में उन्हें अनशन नहीं करना चाहिए।

ब्रह्मस्वरूप ब्रह्मचारी के अनुसार स्वामी सत्यमित्रानंद गिरी वयोवृद्ध हैं और खुद पीएम मोदी के गुरु भी हैं. ऐसे में वरिष्ठ संत को केवल आदेश देना ही उपयुक्त है. उधर बड़ी संख्या में साधु संतों ने मांग की है कि 2019 के पहले राम मंदिर बन के तैयार हो जाना चाहिए लेकिन भाजपा जानबूझकर मंदिर बनाने में लगातार देरी कर रही है. क्योंकि अगर राम मंदिर बन गया तो भाजपा के पास कोई मुद्दा नहीं बचेगा क्या कहना है साधु संतों का आप भी सुनिए।

Add your comment

Your email address will not be published.