रोहतक: दीपेंद्र हुड्डा ने इनेलो की लड़ाई को बताया गृह युद्ध

ख़बरें अभी तक। कांग्रेस के नेता भले ही हरियाणा में गुटबाजी से साफ इंकार कर रहे हों, लेकिन रोहतक से कांग्रेस सांसद दीपेंद्र हुड्डा केवल भूपेंद्र हुड्डा को ही प्रदेश की सत्ता के लायक मानते हैं। रोहतक पहुंचे दीपेंद्र हुड्डा ने तो ये एलान कर दिया कि केवल भूपेंद्र हुड्डा ही प्रदेश का विकास कर सकते हैं। उन्होंने तो दूसरी पार्टियों के असंतुष्ट नेताओं को भूपेंद्र हुड्डा का साथ देने का न्यौतादे डाला। साथ ही 2 साल पहले हुई नोटबन्दी को देश की अर्थव्यवस्था के लिए घातक बताया।

सांसद दीपेंद्र हुड्डा ने कहा कि भाजपा ने 4 साल में प्रदेश में कोई भी विकास नही किया है, वही इनेलो पार्टी में भी आंतरिक कलह चल रहा  है। ऐसे में भूपेंद्र सिंह हुड्डा ही एक ऐसे नेता है जो प्रदेश का विकास कर सकते हैं, इसलिए इनेलो भाजपा व अन्य पार्टियों के जो असन्तुष्ट नेता हैं, वे भूपेंद्र हुड्डा व कांग्रेस का साथ दें। जहां तक गुटबाजी की बात है, वो निराधार है, कांग्रेस पार्टी एक है। सभी नेता कांग्रेस को मजबूत करने का काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि इनेलो में प्रदेश के मुद्दों को लेकर लड़ाई नही है, ये केवल कुर्सी के लिए लड़ाई हो रही है, इसलिए ही वे 15 साल से सत्ता से बाहर हैं।

नोटबन्दी पर सवाल उठाते हुए सांसद ने कहा कि वित्तमंत्री अरुण जेटली के बयान से यह साबित हो गया है कि नोटबन्दी काले धन के लिए नही की गई थी, जबकि प्रधानमंत्री मोदी इसे काले धन को लेकर उठाया गया कदम बता रहे थे। यह केवल अपने आप के लिए सुर्खिया बटोरने के लिए लिया गया फैंसला था। जिसने देश की अर्थव्यवस्था को खराब कर दिया। युवाओं का रोजगार चला गया, बहुत से लोगों को अपनी जान गवानी पड़ी। यही नहीं कि इंडस्ट्री को ताले लग गए। इसलिए भाजपा से लोगों का विश्वास उठ चुका है।

Add your comment

Your email address will not be published.