उत्तर प्रदेश: शाहजहांपुर सरकारी दस्तावेजों को किया जमीन में दफन

ख़बरें अभी तक। राज्य सरकारें जहां एक ओर सभी विभागों को शासकीय कार्यालयों में अभिलेखों के सुरक्षित रख-रखाव के लिए लाखों अरबों रूपये खर्च करती है। तो वहीं उत्तर प्रदेश के जनपद शाहजहांपुर में सरकारी अभिलेखों को आनन-फानन में नष्ट कर जमीन में मिट्टी रोड़ी डालकर जमीन में दबा दिया गया है।

यह मामला जब सामने आया जब हमारे क्षेत्रीय मीडिया के सूत्रों द्वारा अवगत कराया गया तब मौके पर जाकर उक्त सरकारी फाइलों की वीडियो बनाई और मौके पर मौजूद अधिकारी व कर्मचारी से पूछताछ की गई। वहां पता चला कि शाहजहांपुर के ब्लॉक खुदागंज में खंड विकास अधिकारी सुधीर एडीओ पंचायत राजेश शर्मा एवं सहायक एडीओ पंचायत अवनी शर्मा अकाउंटेंट अनिल गुप्ता बाबू जाने आलम की मिलीभगत से पुराने दस्तावेजों को खंड विकास अधिकारी के कार्यालय की बिल्डिंग के नीचे खोदकर मिट्टी और रोड़े में दबाया दिया गया है|

यह ऐसा प्रकरण पहला नहीं है। इससे पहले भी कई सरकारी विभागों में ऐसे ही दस्तावेजों को जलाकर नष्ट किया जा चुका जबकि सरकार सभी अधिकारियों और कर्मचारियों को सख्त हिदायत और निर्देश देती है।  की सभी शासकीय फाइलों और दस्तावेजों की हिफाजत करें लेकिन उसके बाद भी मार्गदर्शिका और निर्देशों का उल्लंघन किया जा रहा है।

Add your comment

Your email address will not be published.